Friday, May 23, 2008

ज्ञानदत्त पान्डेय जी के स्टाइलिश HTML के Code

कल पाण्डेय जी ने अपनी मानसिक हलचल पर कुछ सरल और रोचक प्रयोग किये।

यहाँ पर प्रस्तुत है वो HTML Code जो उन्होने स्टाइल दिखाने के लिये प्रयोग किये।

कुछ सरल HTML प्रयोग:

ब्लिंक एण्ड ब्लश - स्टाइल से

गलोती गलती सुधार
सुप स्क्रिप्ट
स्क्रिप्ट

साइकल के हेण्डल पर फुरसतिया

*******************************************

<center><blink><span style="font-weight: bold; color: rgb(102, 102, 102);" >ब्लिंक एण्ड ब्लश - स्टाइल से</span></blink>

<span style="color: rgb(102, 102, 102);" ><span style="font-weight: bold;"><del>
गलोती</del> गलती सुधार <br />

सुप<sup></sup> स्क्रिप्ट <br />

<sub></sub> स्क्रिप्ट

</span></span></center>

<span style="color: rgb(102, 102, 102);" >

<span style="font-weight: bold;"> <br /></span></span>

<marquee behavior="alternate"><span style="color: rgb(102, 102, 102);font-size:100%;" ><span style="font-weight: bold;">साइकल के हेण्डल पर फुरसतिया</span></span></marquee>

********************************************

स्टाइल दिखाने के लिये लाल रंग मे लिखे कोड आवश्यक नही हैं।

इस प्रविष्टि का लगभग सारा माल उनकी कल की पोस्ट से कॉपी किया गया है जिसका उद्देश्य केवल पाठकों का ज्ञानवर्धन है।

अब सोचता हूँ एक और पोस्ट लिखूँ कि ये पोस्ट कैसे लिखी गयी :)

नोट: ब्लिन्क इन्टर्नेट एक्स्प्लोरर पर काम नही करता।

आज मैं एक बार फिर से दिल्ली मे हूँगा।

6 comments:

Udan Tashtari said...

आपकी पोस्ट ऐसी लगी कि बुकमार्क कर लिया है. ऐसे ही ज्ञान देते रहें ज्ञान जी वाला, तो शायद हम भी कुछ टैकी टाईप हो जायें. :)

आभार.

अनूप शुक्ल said...

समझ रहे हैं। शानदार!

Gyan Dutt Pandey said...

बहुत बहुत थैन्क्यू जी!

L.Goswami said...

kabhi hamare blog (sanchika.blogspot.com) par bhi aayen.html par kuchh kary maine bhi kiya hai.dekhkar ray den mujhe achchha lagega.

LOVELY

RC Mishra said...

समीर जी, शुकुल जी और पाण्डेय जी को धन्यवाद,
@ LOVELY: हम आपके ब्लॉग पर पधार चुके हैं :)।
आप बहुत अच्छा कार्य कर रही हैं, बस ये ध्यान रखें कि प्रविष्टियाँ आपका ब्लॉग पढ़ने और हिन्दी ब्लॉग लिखने वालों के लिये अति उपयोगी हों। शायद उसके लिये थोड़ी सी और मेहनत के आवश्यकता होगी।

उदाहरण के लिये इस प्रविष्टि की उपयोगिता हिन्दी चिट्ठाकारों के बीच अति सीमित है।

धन्यवाद।

L.Goswami said...

धन्यवाद। main dhyan rakhungi.