Friday, May 15, 2009

दिव्य दृष्टि का डिब्बा - विडियो

कमरे में आया तो देखा शुकुल कम्प्यूटर स्क्रीन के सामने लोट पोट हुये जा रहे थे, मैने पूछा माज़रा क्या है भई तो उन्होने ने ये विडियो दिखा दिया…अब यहाँ तक आ ही गये हैं तो आप भी देखते जाइये :)

2 comments:

ज्ञानदत्त पाण्डेय | Gyandutt Pandey said...

काश यह दिव्य एक्सरे मिल पाये नौजवान पीढ़ी को! :)

Indic Blogger said...

नवजवान ही क्यों जिसकी किस्मत उसी को मिले :)