Saturday, February 25, 2006

फूलों का तारों का सबका कहना है..

इन दो तस्वीरों पर आप को क्या कहना है?
पहली तस्वीर एक जाने माने हिन्दी (कवि, लेखक) ब्लागर के MSN Space से ली (चुराई नहीं) गयी है, मुझे उम्मीद है उनको बुरा नही लगेगा दूसरी श्री दिलबाग सिंह जी के परिवार के साथ १३ फ़रवरी को 'सेन-सेवेरिनो' से (जहा पर उनकी भारतीय खाद्य पदार्थो की दुकान है) से 'कैस्तल-राय' मोन्दो (उन्ही की कार मे) आते समय की है।

No comments: